बुधवार, 10 अगस्त 2011

तू जरूर आना... संध्या शर्मा

बचपन में कहती थी,
चंदा है वीर मेरा,
नहीं समझती थी तब...
चाँद दिखता तो रोज है,
पर होता दूर है,
अब समझती हूँ...
कोई पास होकर भी दूर कैसे होता है,
तू तो दूर होकर भी पास होता है,
तू कभी इस चाँद सा मत होना,
जैसा है, हमेशा वैसा ही रहना,
हर साल की तरह राह देखेगी तेरी बहना,
वो आये न आये तू जरूर आना...

26 टिप्‍पणियां:

  1. दिल की गहराई में उतरी रचना....
    बहुत सुन्दर है...

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुंदर भावपूर्ण और मर्मस्पर्शी रचना॥

    उत्तर देंहटाएं
  3. भावपूर्ण और मर्मस्पर्शी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत खूबसूरत अंदाज बधाई !!
    मेरा आपसे निवेदन है कि 16 अगस्त से आप एक हफ्ता देश के नाम करें, अन्ना के आमरण अनशन के शुरू होने के साथ ही आप भी अनशन करें, सड़कों पर उतरें। अपने घर के सामने बैठ जाइए या फिर किसी चौराहे या पार्क में तिरंगा लेकर भ्रष्टाचार के खिलाफ नारे लगाइए। इस बार चूके तो फिर पता नहीं कि यह मौका दोबारा कब आए।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बेहतरीन भाव युक्त सुंदर कविता
    आभार

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर, खूबसूरत भावाभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  7. सुंदर भावपूर्ण रचना. सच ही है चन्दा से तुलना तो कर देते है पर उसके जैसे दूरी कैसे सहन हो.

    उत्तर देंहटाएं
  8. Haan Mummy.. Mama har saal ayenge,
    Kabhi na bhi aa paye to main unhe utha launga :)

    उत्तर देंहटाएं
  9. राखी भाई बहन के अटूट प्यार का प्रतीक है! आपने इस पवित्र पर्व को बहुत खूबसूरती से शब्दों में पिरोया है! राखी की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें!
    मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
    http://seawave-babli.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  10. ...कितनी कोमल ,प्यारे अहसासों को समेटे है ये रचना ..

    उत्तर देंहटाएं
  11. रक्षा-बंधन और स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई.....!

    उत्तर देंहटाएं
  12. रक्षाबंधन पर आपकी कविता बहुत सटीक और सामयिक है.

    उत्तर देंहटाएं
  13. रक्षाबंधन एवं स्वाधीनता दिवस के पावन पर्वों की हार्दिक मंगल कामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत खुब। राखी की शुभकामनाएॅ।

    उत्तर देंहटाएं
  15. बहुत अच्छी अभिव्यक्ति ... राखी का पर्व मिलन का पर्व भी तो होता है ... बहुत बहुत शुभकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  16. सुन्दर अभिव्यक्ति के साथ भावपूर्ण कविता लिखा है आपने! शानदार प्रस्तुती!
    आपको एवं आपके परिवार को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें!
    मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
    http://seawave-babli.blogspot.com/
    http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं